Media Release – ZEE JLF 2019 – Things Not To Miss At The Festival. Yeh Nahi Kiya To Kya Kiya – 10012019 FINAL HINDI

जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2019 में ये नहीं किया तो क्या किया 

फेसबुक JaipurLitFestOfficial  | ट्विटर  @ZEEJLF | इंस्टाग्राम  @JaipurLitFest

और जब कड़कड़ाती ठं ड हमारे दरवाजेपर दस्तक देही चुकी हैतो दोस्तों अपनेदस्तानेऔर मफलर ननकालकर गुलाबी नगरी मेंशुरू होनेवाले, ज़ी जयपुर नलटरेचर फे स्टिवल के नलए तैयार हो ही जाइये| साल 2019, जनवरी मेंजयपुर और वहां का आनलशान नडग्गी पैलेस नफर सेएक बार देश और दुननया भर आये दीवानों की मेजबानी के नलए तैयार है| इन दीवानों पर जहााँनकताबों की धुन सवार है, तो वहींइनके मनों में कु लबुला रहेहैंकु छ सवाल, कु छ नवचार और इनका भी हैअपना एक नजररया| तो ज़ी जयपुर नलटरेचर फे स्टिवल के मंच पर जहां येआपसेअपना हाल-ए-नदल साझा करतेहैं, तो वहींआपकी बात भी पूरेजोश सेसुनतेहैं| लेनकन-लेनकन इससेपहलेनक आप 300 वक्ताओं की भारी नलि तलेदब जाए, याद रस्टियेगा कु छ और भी जरूरी चीजेंहैं, नजनका अगर लुत्फ़ आपनेज़ी जयपुर नलटरेचर फे स्टिवल मेंनहींनलया, तो भई मान लीनजयेनक फे स्टिवल को पूरी तरह नजया ही नहीं| फे स्टिवल के आपके अनुभव को और भी शानदार बनानेके नलए जरूरी सेभी जरूरी हैकु छ पॉइंट:
  • जरूरी से भी जरूरी पॉइंट नम्बर 1— हैररटेज इस्ट्नींग 
ज़ी जयपुर नलटरेचर फे स्टिवल मेंमुख्य वेन्युपर चल रहेसत्ों के साथ ही कु छ प्रोग्राम जयपुर की सांस्कृ नतक धरोहरोंपर भी आयोनजत नकयेजातेहैं| नजनमेंहवा महल और आमेर फोटटप्रमुि रहतेहैं| इन ऐनतहानसक स्थलों पर होनेवालेयेशानदार कायटक्रम आपके जीवन की कु छ िुशनुमा शामों मेंशानमल हो सकतेहैं| राजस्थान पयटटन के साथ नमलकर आयोनजत होनेवाली इन सांस्कृ नतक शामोंमेंकई प्रमुि कलाकार समा बांध चुके हैं, जनमेंनसीरुद्दीन शाह, शबाना आज़मी, सोनम कालरा शानमल हैं| इस साल भी कु छ ख़ास मेहमान आपकी शाम को गुलज़ार करनेके नलए उपस्टस्थत रहेंगे, और जवाहर कला कें द्र और आमेर फोटटमेंयेसांस्कृ नतक शामें सजेंगी| 25 जनवरी को जवाहर कला कें द्र में‘क्लोनथंग एज आइडेंनटटी’ नाम सेएक फै शन शो आयोनजत नकया गया है, जहााँकु छ पारम्पररक नडजाइनर, नदल को छूलेनेवालेलोकगीत की पृष्ठभूनम में, कच्छ की सांस्कृ नतक परम्परा को पररधानोंके माध्यम सेप्रस्तुत करेंगे| 26 जनवरी को आमेर फोटटमेंके रल का शास्त्रीय संगीत और, शानकर िान और अज़ीम अल्वी के साथ उस्ताद िान और हाफीज़ अहमद अल्वी का नसतार वादन होगा|
  • जरूरी से भी जरूरी पॉइंट नम्बर 2 — फेस्टिव बाज़ार
नडग्गी पैलेस मेंचल रहेअनेकों सत्ोंके बीच श्रोताओं/दशटकों का ध्यान अक्सर वहां सजी छोटी-छोटी दुकानों पर जाता ही जाता है| फे स्टिवल बाजार मेंआमंनत्त येनवक्रे ता जहां कु छ चुननंदा साजो-सामान के साथ अपने उपभोक्ताओं के सामनेहानजर होतेहैं, वहीाँज्यादातर दुकानेंचैररटी के मकसद सेभी संचानलत हैं| इन दुकानों मेंनबकनेके नलए आया सामान अनधकतर स्कू ली बच्ों या कु छ एनजीओ की मदद सेजरूरतमंद कारीगरों द्वारा तैयार नकया गया होता है| नजनकी नबक्री का एक नननित अनुपात उन तक पहाँचता है| तो एक अच्छेमकसद के साथ, हाथ सेबनी हई इस उम्दा कारीगरी को देस्टियेऔर इनका ह ंसला बढ़ाइए| यहााँिेशनरी के सामान सेलेकर, िूबसूरत झोले, कढ़ेहए शाल, मीनाकरी की हई ज्वेलरी, टोनपयां, जैके ट तक सब उपलब्ध है| और इनके िूबसूरत रंग वाकई मुड़-मुड़कर देिेजानेलायक हैं|
  • जरूरी से भी जरूरी पॉइंट नम्बर 3 — सुबह और शाम का म्यूजिक 
बातेंहो सानहत्य की और संगीत न हो... ऐसा कै सेहो सकता हैभला| तो ज़ी जयपुर नलटरेचर फे स्टिवल अपनी नलि मेंसंगीत को प्राथनमकता देतेहए सुबह और शाम, दोनों ही समय नबलकु ल अलग अंदाज मेंदुननया के बेि सेबेि कलाकारोंको मंच पर ला श्रोताओं को सम्मोनहत कर देता है| सुबह 9:30 बजे, नडग्गी पैलेस मेंही इतनी सुरीली और ओजस्वी प्रस्तुनत दी जाती हैनक न चाहतेहए भी आपका नसर उन धुनोंपर झूमनेलगता है| माना सदी की सुबह में9:30 बजेकहींपहंचना इतना आसान नहींहोता, लेनकन गर आप पहाँच गए तो ऊजाट और आनन्द की ऐसी अनुभूनत होती हैनक आप िुद मेंअगलेकई नदन काम कर पानेकी स्फू नतटमहसूस करते हैं| येसंगीत के माध्यम सेएक ध्यानावस्था होती है|

वहीाँशाम का जबरदस्त म्यूनजक आपके पैरोंको नथरकनेके नलए मजबूर कर देता है| एक जबरदस्त बीतेनदन की एक शानदार नवदाई जयपुर म्यूनजक िेज पर ही दी जाती है| तो कहा जा सकता हैनक ज़ीजेएलएफ मेंअगर म्यूनजक नहींसुना तो क्या नकया... और इस बार के कलाकारोंमेंबनाटली चट्टोपाध्याय, दीपा रनसया, श्रुनत नवश्वनाथ, उषा उत्थुप और नवद्या शाह शानमल हैं|
  • जरूरी से भी जरूरी पॉइंट नम्बर 4 — फेवरेट लेखक से साइन की हुई कॉपी
हम सबके अपनेकु छ रोल मॉडल और फे वरेट सेनलनिटी और लेिक होतेहैं| तो ज़ी जयपुर नलटरेचर फे स्टिवल मेंन नसफट आप उन्हेंदेि/सुन सकतेहैं, बस्टि उनकी नकताब िरीदकर, उस पर उनके ऑटोग्राफ भी लेसकते हैं| और क्या पता आपको लगेहाथोंउनसेअपनेनदल का कोई सवाल पूछनेका म का भी नमल जाए| तो दोस्तों अपनेफै न गलट/बॉय मूमेंट को जीतेहए इसेभी आजमा नलया जाये|
  • जरूरी से भी जरूरी पॉइंट नम्बर 5 — मजेदार कुल्हड़ चाय और पालक पत्ते की चाट
उफ़्फ़ जहााँइतनी मस्ती हो ही रही हैतो ‘वर्ल्टफे मस’ कु ल्हड़-चाय और पालक के पत्तेकी चाट क्यों छोड़ी जाए| नडग्गी की िास रेनसपी सेतैयार यह चाय और चाट सच मेंआपको कहींनहींनमलेगी| और भलेही फ्रं ट लॉन मेंनकतना ही बड़ा सेनलनिटी क्यों न मंच सेबोल रहा हो, लेनकन नफर भी फ्रं ट लॉन के पीछेचलनेवाली चाय की चुस्टस्कयां और चाट की लजीजी एक पल के नलए भी नहींरूकती| वो क्या कहतेहैं, इसका स्वाद सीधे आत्मा तक जो पहंचता है|
  • जरूरी से भी जरूरी पॉइंट नम्बर 6 — सेलिब्रिटी के साथ दिलचस्प बातचीत का मौका
जैसा की हमनेआपको बताया नक आप लेिक की साइन की हई नकताब िरीद सकतेहैं, लेनकन यहााँऐसेऔर भी बहत सेसेनलनिटी आतेहैं, जो यूं ही आपको इधर-उधर कोई सत् सुनतेहए या एक वेन्युसेदू सरेके बीच जातेहए टकरा जातेहैं| और अगर बाय चांस आपनेडेनलगेट पास ख़रीदा हआ है, तो लंच एररया या नफर नफर डेनलगेट लाउन्ज में, क न जानेआपका जैक पॉट लग जाए और आपको कु छ पल की गुफ्तगूनमल जाए... लेनकन ऐसेमामलोंमेंहमेंपूरी तरह सेदू सरेकी प्राइवेसी का ध्यान रितेहए, सभ्य तरीके सेपेश आना चानहए|
  • जरूरी से भी जरूरी पॉइंट नम्बर 7— हो सकता है अगले दिन के फ़्रंट पेज पर आप ही हो!
ैसेतो ज़ी जयपुर नलटरेचर फेस्टिवल नसतारोंकी तड़क-भड़क सेसजा रहता है, नफर भी यकीन माननए यहााँ आयेबहत सेआम लोग भी अक्सर अख़बारों के फ्रं ट पेज पर छा जातेहैं| दरअसल यहां एक ही समय पर सैंकड़ोंप्रोफे शनल फोटोग्राफर घूम रहेहोतेहैं, नजनको न जा जानेकब आपका हेयर िाइल या नफर आपके कपड़ोंका रंग भा जाता है, और वो आपकी कै ननडड तस्वीर स्टक्लक कर लेतेहैं| तो दोस्तोंजब दुननया संभावनाओं सेभरी हैतो ज़ी जयपुर नलटरेचर फे स्टिवल कै सेपीछेरह सकता है|
  • जरूरी से भी जरूरी पॉइंट नम्बर 8 — सुपर्ब सेल्फी पॉइंट
सोशल मीनडया के इस द र मेंकोई भी सेल्फी के श क सेअछू ता तो नहींही है| तो क्यों न इसेस्वीकारतेहए कह देंनक जी हााँहम भी कई बार अच्छी सेल्फी की तलाश मेंमीलों का सफर तय कर जातेहैं| तो भई मीलों नहीं, बस जब आप ज़ी जयपुर नलटरेचर फे स्टिवल मेंआ ही गए हैंतो सेल्फी लेनेसेक्यों चूकना| और कई बेहतरीन सेल्फी की गारंटी हम आपको देतेहैं|
  • जरूरी से भी जरूरी पॉइंट नम्बर 9 — वो अजनबी
कभी नकसी महान कनव नेकहा था, “नकसी नदन उनसेमुलाकात होगी”, तो जी नकसी नदन क्यों, बस्टि ज़ी जयपुर नलटरेचर फे स्टिवल पक्के रूप सेआपको ऐसेबहत सेलोग नमलेंगे, नजनसेबात करना, या उनके साथ कु छ समय गुजारना आपके जीवन का कोई यादगार पल बन सकता है| यकीनन यहााँकु छ ऐसेदोस्त नमल सकतेहैं, नजन्हेंवही नकताब पसंद हो, जो आपको पसंद है| या हो सकता हैनक आप नकसी एक ही लेिक या हस्ती के फै न हो, या कोई िास नकरदार, नजससेआप दोनोंही सहमत न हों|
  • जरूरी से भी जरूरी पॉइंट नम्बर 10 — खिले खिले रंगो से रौशन माहौल 
और अंत में, लेनकन चूंनक हर अंत एक शुरुआत है, तो यहााँके स्टिले-स्टिलेमाह ल मेंआपको एहसास होता है नक तनाव की कोई गााँठ िुल रही है| हो सकता हैआप नकसी िास दीवार पर बनी नचत्कला को देि रहेहों, तो पता चलेनक वो नकसी नामी कलाकार की कृ नत है| हर साल यहााँओजस आटटअवाडटके तहत आयेकलाकारों का काम भी प्रदनशटत नकया जाता है| इस साल के कलाकारोंमेंराजेश चैत्यवांगड़, तुषार वायेद और मयूर वायेद शानमल हैं| हो सकता हैकोई िास कला आपको प्रेररत कर दे| तो जहााँआप मन मेंकु छ अच्छेसत् सुननेका संकल्प लेकर आ रहेहैं, तो वहीाँकु छ देर के नलए इस माह ल का भी अनुभव अपनेमन मेंसंजोइए|


--समाप्त --


मीडियाकर्मियों के लिए नोट :
जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल  पंजीकरण के लिए देखे :  https://jaipurliteraturefestival.org/media
जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल की मीडिया सम्बंधित जानकारी  के लिए कृपया एडेलमैन इंडिया से संपर्क करे :  IndiaJLF@edelman.com

जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2019 के बारे में

'धरती पर  सबसे बड़े साहित्यिक उत्सव ' के तौर पर वर्णित जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल विचारो का शानदार उत्सव है |

पिछले दशक के दौरान जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल वैश्विक साहित्यिक आयोजन के तौर पर उभरा है जिसने करीब 2000 वक्ताओं की मेजबानी की है और भारत तथा दुनिया भर के 10 लाख से ज्यादा पुस्तक प्रेमियों का स्वागत किया है |

फेस्टिवल के बुनियादी मूल्यों में बदलाव नहीं आया है : एक लोकतान्त्रिक , गैर - गठबंधन मंच के तौर पर सञ्चालन , जो सभी को मुफ्त एवं निष्पक्ष पहुंच प्रदान करता है |

हर साल यह फेस्टिवल दुनिया के महानतम लेखकों, विचारको , मानवतावदिओ , राजनेताओ , बिज़नेस लीडर्स , खेल से जुडी हस्तियों और मनोरंजन से जुड़े लोगो को एक मंच पर लता है जहा वे खुलकर अपने विचारो को अभिव्यक्त करते है और विचारशील बहस एवं संवाद करते है |

बीते समय में महोत्सव के वक्ताओं में नोबेल विजेता जे.एम. कोयतजे, ओरहान पामुक और मोहम्मद यूनुस, मैन बुकर पुरुस्कार विजेता इयान मैकइवान , मार्ग्रेट एटवुड और पॉल बेट्टी , साहित्य अकादमी पुरुस्कार विजेता गिरीश कर्नाड , गुलजार , जावेद अख्तर , एम. टी. वासुदेवन नायर के साथ ही साथ दिवंगत महाश्वेता देवी और यू. आर. अनंतमूर्ति के अलावा, साहित्यिक सुपर स्टार अमिश त्रिपाठी, चिमानन्द नगोची अधिची और विक्रम सेठ की मेजबानी की है | यह सालाना जलसा साहित्य के दायरे से बहार निकलते हुए फेस्टिवल में अमर्थ्य सेन , अमिताभ बच्चन , दिवंगत ए. पी. जे. अब्दुल कलाम , 14 वें दलाई लामा ,ओप्रा विनफ्रे ,स्टीफेन फ्राई , थॉमस पिकेटी और अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई की भी मेजबानी की |

जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल टीमवर्क आर्ट्स का प्रमुख आयोजन है | टीमवर्क आर्ट्स दुनिया के 40  शहरों  में 25 से अधिक बेहद प्रतिष्ठित परफार्मिंग आर्ट्स विसुअल आर्ट्स और लिटरेरी फेस्टिवल्स का आयोजन करती है |

पिछले कुछ वर्षो में टीमवर्क आर्ट्स ने जी जेएलएफ का आयोजन ब्रिटिश लाइब्रेरी के साथ ही बोल्डर जी  जेएलएफ , जेएलएफ ह्यूसटन , जेएलएफ न्यूयार्क एवं जेएलएफ एडिलेड का आयोजन किया |

वेबसाइट :  www.jaipurliteraturefestival.org

टीमवर्क आर्ट्स के बारे में :

पिछले 25 वर्षो में टीमवर्क ने दुनिया और दुनिया को भारत के समक्ष प्रस्तुत किया |

टीमवर्क आर्ट्स ऑस्ट्रेलिया , कनाडा , मिस्त्र , फ्रांस , जर्मनी , हांग कांग , इटली , कोरिया , सिंगापुर , दक्षिण अफ्रीका , स्पेन , ब्रिटेन और अमेरिका जैसे देशो के 40 से अधिक शहरों में 25 से ज्यादा कला , दृश्य कला और साहित्य के क्षेत्र के प्रतिष्ठित उत्सवों का आयोजन करती है |

टीमवर्क आर्ट्स दुनिया के सबसे बड़े साहित्यिक जमावड़े  जी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल , इशारा इंटरनेशनल पपेट फेस्टिवल , और नई दिल्ली में महिंद्रा एक्सीलेंस इन थिएटर अवार्ड्स (एमईटीए) एंड फेस्टिवल , इंटरनेशनल फेस्टिवल्स दक्षिण अफ्रीका में शेयर्ड हिस्ट्री , अमेरिका में आई ऑन इंडिया , हांग कांग में इंडिया बाई द वे , ऑस्ट्रेलिया में कोन्फ़्लुएन्स - फेस्टिवल ऑफ़ इंडिया यूनाइटेड किंगडम में इंडिया @70 2017:इयर ऑफ़ कल्चर इन द यूनाइटेड किंगडम तथा और भी बहुत सरे आयोजन करती है |

वेबसाइट : www.teamworkarts.com